अश्वगंधा चूर्ण का सेवन कैसे करें इसके फायदे और नुकसान

ashwagandha khane ka tarika

Ashwagandha Powder Benefits and Side Effect in Hindi

आयुर्वेदिक की दुनिया में अश्वगंधा एक ऐसी रामबाण दवाई है जो तरह तरह के रोगों को ठीक करने के लिए उपयोग में लायी जाती है|अश्वागंघा कैप्सूल पाउडर, तेल के रूप में मार्केट में बिकता है जिसे आप पंसारी या पतंजलि की दुकान से ले सकते है|  वजन और लम्बाई बढ़ने के लिए अश्वगंधा बहुत लाभदायक है| शारीरिक और मानसिक विकास के लिए अश्वागंघा को शतावरी के रूप में लेना चाहिए| इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें और जाने कि अश्वगंधा को कब और कैसे ले तथा यह किस प्रकार से काम करता है|

अश्वगंधा चूर्ण के फायदे -Ashwagandha ke Fayde

1.  अश्वगंधा के सेवेन से महिलायों की प्रजनन क्षमता बढती है और यदि कोई महिला अपने ब्रेस्ट का साइज बढ़ाना चाहती है तो उन्हें अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए|

2. पुरुषो के लिए भी लाभकारी है अश्वगंधा के सेवन से जैसे कि प्रजनन क्षमता बढ़ना, शुक्राणुओं की संख्या बढ़ना, शारीर में जोश आना, रोग प्रतिरोग क्षमता बढ़ना इसके साथ ही जो लोग अनिद्रा के कारण परेशान रहते है उन्हें अच्छी नीद भी आती है|

3. वजन बढ़ने के लिए अश्वगंधा सतावरी  और  मिश्री को बराबर बराबर में अच्छी तरह मिलाकर रात में सोने से पहले एक चम्मच पाउडर को खा लीजिये और फिर दूध पी लियेजिये इसके ऊपर से| ऐसा लगभग एक महीने तक कीजिये बजन बढ़ने लगेगा|

4.  लम्बाई बढ़ने के लिए अश्वगंधा रामबाण है| एक गिलास दूध में एक चम्मच अश्वगंधा पाउडर मिलाइए और इसे पी जाइये|  इस उपाय को 30-40 दिनों तक रोजाना कीजिये, लम्बाई बढ़ जाएगी|

5.  आँखों की रौशनी बढाने के लिए अश्वगंधा असरदार साबित होता है|   अश्वगंधा, आवला तथा मुठेली को मिलाकर इस मिश्रण को रोजाना एक चम्मच लीजिये|

अश्वगंधा चूर्ण के नुकसान- Ashwagandha ke Nuksan

1. अश्वगंधा के अत्यधिक सेवन से शरीर में तरह- तरह के बदलाव देखने को मिलते है, यदि शारीर का तापमान बढ़ता है या बुखार आता है तो इसका सेवन बंद कर देना चाहिए और यदि कुछ ज्यादा परेशानी होती है तो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए|

2. बहुत ज्यादा समय तक अश्वगंधा खाने से दूसरी दवाइया असर नहीं करती| ऐसे में फिर यदि कोई बीमारी हो जाती है तो उसका इलाज जल्दी नहीं हो पाता|

3. ज्यादा अश्वगंधा खाने से पे में समस्या होने लगती है जैसे कि पेट में गैस कि समस्या, उल्टी आना और दस्त लगना|

 4. नीद नहीं आने कि समस्या को अश्वगंधा दूर करता है लेकिन यदि इसका अधिक सेवन किया जाये तो या तो ज्यादा नीद आएगी या फिर नीद न आना जैसी समस्या खडी हो जाएगी|

 

  • 5/5
  • 4 ratings
4 ratingsX
Very bad! Bad Hmmm Oke Good!
0% 0% 0% 0% 100%